Indian Railway main logo
Search :
Increase Font size Normal Font Decrease Font size
   View Content in Hindi
National Emblem of India

About Us

Citizen Charter

Trains & Timings

Passenger Services / Freight Information

Public Information

Tenders

Contact Us



 
Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS

DEMU Aero-Dynamic Rake


1.डीज़ल लोको शेड, विजयवाड़ा की गतिविधियाँ/The activities of Diesel Loco Shed, Vijayawada:


विजयवाड़ा, गुंटूर, सिकंदराबाद मंडलों में डीज़ल इंजनों तथा डीजल इलेक्ट्रिकल मल्टिपुल यूनिट (डेमु), रेल बस, स्वचालित दुर्घटना राहत गाड़ी, स्वचालित दुर्घटना राहत चिकित्सा वाहन, रोड मोबाइल दुर्घटना राहत वाहन तथा 140 टन ब्रेक डाउन क्रेन का एकीकृत अनुरक्षण./Integrated Maintenance of Diesel Locomotives & Diesel Electrical Multiple Units (DEMUs), Rail Buses, Self-Propelled Accident Relief Train, Self Propelled Accident Relief Medical Van, Road Mobile Accident Relief Van & 140Ton Break Down Crane to cater in Vijayawada, Guntur, Secunderabad divisions.

मंडल यांत्रिक इंजीनियर/DME
सहायक मंडल यांत्रिक इंजीनियर (डीज़ल)/ADME(DSL)
सहायक सामग्री प्रबंधक (डीज़ल)/AMM(DSL)

 2.प्रशासन/ADMINISTARTION:

 

यह शेड, मंडल यांत्रिक इंजीनियर के नेतृत्व में 02 सहायक मंडल यांत्रिक इंजीनियर तथा 01 सहायक सामग्री प्रबंधक की सहयोग से चल रहा है.  यह शेड 371 श्रमशक्ति से चल रहा है. जिसमे (इंजन अनुरक्षण के लिए तकनीकी पर्यवेक्षक, कारीगर कर्मचारी अधीनस्थ कर्मचारी, लिपिक वर्गीय कर्मचारी, ब्रेक डाउन क्रेन, एसपीएआरटी, एसपीएआरएमवी तथा आरएमएआरवी के अनुरक्षण के लिए 44 कर्मचारी और अन्य विविध प्रकार के कर्मचारी शामिल है) डीज़ल लोको शेड/विजयवाड़ा के साथ संबद्ध भंडार विभाग,  सहायक सामग्री प्रबंधक की अध्यक्षता में कार्यरत है जिसमें 765 स्टॉक मद भी शामिल है/The shed is headed by One DME assisted by one ADME and 01 AMM. The shed is having 371 Man power (includes Technical Supervisors, Artisan staff for loco maintenance, Ancillary Staff, Ministerial staff, 44 members towards maintenance of Break Down crane, SPART, SPARMV & RMARV and other miscellaneous staff). One Store department attached to DLS/BZA is headed by one AMM with 762Nos. stocked items.

 

3.संक्षिप्त इतिहास/BRIEF HISTORY:

 

डीजल लोको शेड, विजयवाड़ा को वर्ष 1979 में, 170 लाख की लागत से, 20 डब्ल्यूडीपी4 इंजनों के अनुरक्षण के लिए स्थापित किया गया था और यह वर्ष 1989 में इंजनों की संख्या 35 के रूप में वृद्धि हुई. इन इंजनों को डब्ल्यूडीएम2 डी-रेटेड इंजनों के रूप में निवर्तित कर शंटिंग प्रयोजन के लिए उपयोग किया जा रहा है. इस दौरान वर्ष-2000 में 02 इंजन और वर्ष 2004 में 15 इंजनों को पश्चिम रेलवे को आंतरित किया गयाडीजल लोको शेड, विजयवाड़ा को वर्ष 1979 में, 170 लाख की लागत से, 20 डब्ल्यूडीपी4 इंजनों के अनुरक्षण के लिए स्थापित किया गया था और यह वर्ष 1989 में इंजनों की संख्या 35 के रूप में वृद्धि हुई. इन इंजनों को डब्ल्यूडीएम2 डी-रेटेड इंजनों के रूप में निवर्तित कर शंटिंग प्रयोजन के लिए उपयोग किया जा रहा है. इस दौरान वर्ष-2000 में 02 इंजन और वर्ष 2004 में 15 इंजनों को पश्चिम रेलवे को आंतरित किया गया/Diesel Loco Shed, Vijayawada was established in the year 1979 at the cost of about Rs.170 lakhs to maintain 20 WDS4 locomotives and increased to 35 in the year 1989. Progressively these locomotives were withdrawn as WDM2 de-rated locomotives were used for shunting purposes. Meanwhile 02 locos in the year 2000 and 15 in the year 2004 have been transferred to Western Railway. Again 02 locos of Diesel Loco Shed, Moula-ali were transferred to this shed in the year 2004 leaving the effective holding of WDS4 locomotives at BZA to 20.In the year 2006, 13 locomotives have been condemned and auctioned and 02 locomotives were transferred to Shakurbasthi Shed, Northern Railway. Presently 05 WDS4 locomotives are under premature condemnation. Railway Board had sanctioned vide letter No. M.66/DSL/COND.underaged/ 120/Dec.06 dt.24.02.10.

 

विजयवाड़ा मंडल में डब्ल्यूडीएस4 इंजनों की कमी और विद्युत कर्षण में वृद्धी के कारण से यात्री/एक्सप्रेस दोनों सेवाओं में और उपनगरीय यातायात में भी भारी यातायात को सहने के लिए डीज़ल लोको शेड, विजयवाड़ा के अधीन 5 इंजनों के साथ विजयवाड़ा में डेमू सेवाएं    वर्ष-1996 से प्रारंभ किया गया. फिलहाल में डेमू की कुल क्षमता 41 डीपीसी, 13 डीटीसी और 85 टीसी उपलब्ध है और विजयवाड़ा, गुंटूर तथा सिकंदराबाद मंडलों में काम कर रहे है/With the reduction of WDS4 locomotives and increase in Electric traction in BZA Division, DEMU services started in Vijayawada from the year 1996 with 5 consists placed under Diesel Loco Shed, Vijayawada to ease severe traffic constraints both in passenger/express services and also in suburban traffic. Presently the total holding of DEMUs is 47 DPCs, 13 DTCs and 107 TCs and is working in BZA, GNT, and SC divisions.

 

वर्ष-2002 में, डीईएमयू तथा डब्ल्यूडीएस4 इंजनों के अलावा, 15 डब्ल्यूडीपी1इंजनों को डीज़ल लोको शेड, काजीपेट से इस शेड को आंतरित किया गया जो विजयवाड़ा, गुंटूर तथा गुंतकल मंडलों में मेईल/एक्सप्रेस/पैसिंजर सेवाओं में कार्यरत है.अक्तूबर 2008 माह के दौरान, डीज़ल लोको शेड, तुग्लकाबाद, उत्तर रेलवे, से 02 और डब्ल्यूडीपी1 इंजनों को आंतरित किया गया तथा 01.11.08 तथा 09.11.08 से विजयवाड़ा लोको लिंक में रखा गया/In the year 2002 apart from DEMUs and WDS4 locomotives, 15 WDP1 locomotives were transferred from Diesel Loco Shed, Kazipet to this shed which are working in Mail/Express/Passenger services in BZA, GNT and GTL divisions. During the month of October 2008, 02 more WDP1 locomotives were transferred from Diesel Loco Shed, Tuglakhabad, Northern Railway and put in BZA loco links from 01.11.08 & 09.11.08.


मार्च 2007 में, विजयवाड़ा, गुंटूर मंडलों में विजयवाड़ा मंडल के काकिनाडा-कोटिपल्लि सेक्शनों के बीच चलने के लिए नांदेड मंडल से 2 रेल बसों को प्राप्त किया गया/In March 2007, 2 RAIL BUSES were received from NED division to run between COA-KLPH section of BZA division. 

 

इन इंजनों के अलावा, पूरे विजयवाड़ा तथा गुंटूर मंडलों में कोचिंग शंटिंग, यार्ड शंटिंग तथा बीटी आदि में उपयोग करने के लिए डीज़ल लोको शेड/काजीपेट, डीज़ल लोको शेड/गुंतकल से 13 डब्ल्यूडीएम2 के पुराने लोकोमोटीवों को आंतरित किया गया/1 WDM2 Mainline locos transferred from DLS/MLY to utilize cater BT/PQRS in BZA. 05 WDS6 new shunting locomotives received from DMW for departmental/shunting purpose commissioned on 17.11.16 & 01.12.16. 


a) आरंभ वर्ष/Year of commencement:

 

07.08.1983

b)  शेड में पहली लोको को लगाया गया रोड सं./प्रकार/Road No./Type of the first loco homed in shed:

 

19524/डब्ल्यू डी एस 4 बी/WDS4B




Source : South Central Railway CMS Team Last Reviewed on: 08-08-2017  


  Admin Login | Site Map | Contact Us | RTI | Disclaimer | Terms & Conditions | Privacy Policy Valid CSS! Valid XHTML 1.0 Strict

© 2016  All Rights Reserved.

This is the Portal of Indian Railways, developed with an objective to enable a single window access to information and services being provided by the various Indian Railways entities. The content in this Portal is the result of a collaborative effort of various Indian Railways Entities and Departments Maintained by CRIS, Ministry of Railways, Government of India.