Screen Reader Access Skip to Main Content Font Size   Increase Font size Normal Font Decrease Font size
Indian Railway main logo
खोजें:
Find us on Facebook   Find us on Twitter Find us on Youtube View Content in English
National Emblem of India

हमारे बारे में

नागरिक चार्टर

रेलगाड़ियां तथा समय

यात्री सेवाएं / भाड़ा जानकारी

सार्वजनिक सूचना

निविदाएं

हमसे संपर्क करें

हमारे बारे में
   मंडल
      गुंतकल
         विभाग
            लेखा


 
Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS
लेखा




 

                                                                                                                                                                             Back


  
                                                                            Organization Structure

 
 Sl.NO.  NAME OF THE OFFICER  DESIGNATION  MOBILE NUMBER
   1   Sri. PAGADALA V. RAMI REDDY   Sr.DFM  97013 74101
   2   Sri. S.MALLIKARJUNA  ADFM  97013 74102
   3   Sri. M V S RAVI KUMAR   ADFM  97013 74103
   4   Sri. G SADANAND   ADFM  

                                   











     गुंतकल मंडल


दक्षिण मध्य रेलवे रेल यात्रा को सुखद और सुविधाजनक बनाने में विश्वास रखता है. रेलवे में लेखा व वित्त विभाग इसे किफायती बनाने में यह विश्वास करता है कि फिजूलखर्च को रोकते हुए अर्जित धन कुशलता से खर्च किया जाए.

10 अक्तूबर, 1956 को दक्षिण रेलवे के भाग के रूप में गुंतकल मंडल का गठन किया गया और 2 अक्तूबर, 1977 को दक्षिण मध्य रेलवे को अंतरित किया गया.  इसकी भौगोलिक स्थिति के कारण यह उत्तर व दक्षिण और पूर्व व पश्चिम के बीच एक कडी के रूप में भारतीय रेल पर स्वर्णिम चतुर्भुज के एक भाग में मुंबई-चेन्नै मार्ग में महत्वपूर्ण लिंक बनता है. यह मंडल तिरुपति के भगवान श्री वेंकटेश्वर के विश्व प्रसिद्ध मंदिर के अलावा गुंतकल, मंत्रालयम, पुट्टपर्ती आदि पर अन्य प्रसिद्ध मंदिरों व पवित्र स्थलों इत्यादि के लिए निवास स्थान है. यह क्षेत्र लौह अयस्क, सीमेंट की गुणवत्ता वाली चूना पत्थर और बेराइट्स की ढेरों से सुसंपन्न है. यह मंडल आन्ध्रप्रदेश, कर्नाटक एवं तमिलनाडु राज्यों में फैला हुआ है.

गुंतकल मंडल प्रतिबद्धता और जिम्मेदारी में विश्वास रखता है और पिछली उपलब्धियों की आड़ में संतुष्ट नहीं रहता है. हम मानकों को पार कर सफलता के नए कीर्तिमान हासिल करने में विश्वास रखते हैं. समय के इस काल चक्र में आगे बढने के लिए हम प्रत्येक मोड पर सीखने के लिए तैयार रहना है.

लेखा विभाग

लेखा विभाग एक सेवा विभाग है. यह अन्य विभागों के साथ कुशल लेखांकन, कर्मचारियों, आपूर्तिकर्ताओं, ठेकेदारों और अन्य को समय पर भुगतान करने की व्यवस्था करना, वित्तीय लेनदेन की आंतरिक जांच, वित्त प्रस्ताव, निविदा की समीक्षा आदि, प्रक्रियाओं की पवित्रता का बचाव, बजट एवं राजस्व के साथ योजना शीर्ष व्यय का नियंत्रण करना तथा लेखा परीक्षा एवं कार्यकारी विभागों के साथ समन्वय कर नियम और कार्य पद्धति के अनुसार प्रणाली/ठेका प्रबंधन/मूल रिकार्ड/लेखा बही का रख-रखाव में सुधार करने की भूमिका निभाता है.

गुंतकल मंडल, लेखा विभाग के प्रमुख वरि.मंडल वित्त प्रबंधक है एवं 03 सहायक मंडल वित्त प्रबंधक, 17 वरि.सेक्शन अधिकारी, 54लिपिकीय कर्मचारी और 09 ग्रुप डी कर्मचारी हैं. अधिकारियों एवं कर्मचारियों सहित कुल संख्या 84 है.

चालू वित्तीय वर्ष 2024 - 25 में कार्यनिष्पादन विशेषताएं

(अप्रैल  - 2024 से जून - 2024)

           कार्यनिष्पादन सूचकांक:

जून - 2024 के अंत तक कार्यनिष्पादन दक्षता सूचकांक 119.04% रहा, जबकि जून - 2023 के अंत तक यह 106.75% था.

vराजस्व व्यय :

वित्त वर्ष 2024 - 25 के लिए, 898.46 करोड रुपए के (बीजी) पर, 503.36 करोड रुपए के बजट अनुपात के प्रति जून,2024 के अंत तक वास्तविक व्यय रु.585.71 करोड़ है.

वित्त निष्पादन (राजस्व व्यय)                                                                               (रु. करोडों में)

मांग

तक वास्तविक व्यय  

बीजी (एसएल )

एसएलटीई जून -24 पर बीपी

जून -24 का अनुमानित टीई

अंतर

जून -22

जून -23

2024-25

(एसएल पर अनुमानित बीपी)

 (अनुमानित  -22-24)

 (अनुमानित  -23-24)

3A

12.9825

15.0099

30.4924

18.8609

14.2332

-4.6277

1.2507

-0.777

4B

72.7580

84.0232

168.4556

107.1830

92.8564

-14.3266

20.0984

8.833

5C

44.4737

32.4022

70.2239

44.0544

37.5439

-6.5105

-6.9298

5.142

6D

26.8342

29.5545

57.4375

35.5514

27.7616

-7.7898

0.9274

-1.793

7E

25.8994

19.6261

60.7554

38.2033

31.5381

-6.6652

5.6387

11.912

8F

68.9865

84.4925

154.5811

95.9934

89.3373

-6.6561

20.3508

4.845

9G

65.1436

76.5031

157.7269

93.0994

83.8984

-9.2010

18.7548

7.395

10H

117.5265

145.2543

80.0580

-11.2390

126.8697

138.1087

9.3432

-18.385

11J

36.8610

40.2001

66.7864

47.6309

48.0176

0.3867

11.1566

7.818

12K

10.2448

10.6079

22.8826

14.1788

11.1219

-3.0569

0.8771

0.514

13L

18.3635

20.2411

29.0567

19.8402

22.5297

2.6895

4.1662

2.289

कुल

500.0737

557.9149

898.4565

503.3567

585.7078

82.3511

85.6341

27.793


योजना शीर्ष व्यय:

इस मंडल पर 16  योजना शीर्ष (पीएच) संचालित हैं.  जून, 2024 के अंत तक वास्तविक व्यय 100.86 करोड़ रुपये है, जबकि पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 99.42 करोड़ रुपये खर्च किए गए थे. वर्ष 2024-25 के लिए 273.29 करोड़ रुपये के आर.जी को ध्यान में रखते हुए सभी योजना शीर्षों के लिए व्यय की निगरानी की जाती है.  वित्त वर्ष 2023-24के लिए कुल योजना शीर्ष व्यय 433.12 करोड रुपए है.

                                                                                                                                    (रु. करोड में)

लेखा शीर्ष

वास्तविक 2023-24

वास्तविक

जून  -22 तक

वास्तविक जून  -23 तक

बीजी

 2024-25

  जून  - 24 के लिए वास्तविक व्यय  

जून  -24 अंत तक वास्तविक व्यय  

अंतर             (22-24)

अंतर             (23-24)

16 टीएफसी सुविधाएं

10.5673

1.2820

2.2258

4.8600

0.0015

2.2896

1.0076

0.0638

21 आरएसपी

3.8983

0.0000

0.5551

0.8266

0.0025

0.2872

0.2872

-0.2679

29आर.एस.डब्ल्यु(एलसी)

4.6819

0.0613

0.9139

2.3732

0.1405

1.1244

1.0631

0.2105

30 आर.एस.डब्ल्यु (आरओबी/आरयुबी)

119.5781

14.8998

17.8195

138.0840

12.8358

29.1018

14.2020

11.2823

31 ट्रैक नवीकरण

183.1034

54.9966

65.6442

62.9783

10.9250

37.9283

-17.0683

-27.7159

32 पुल कार्य

15.4445

1.3943

4.9790

7.4160

0.1217

4.1661

2.7718

-0.8129

33 सिवदूसं कार्य

1.6043

0.0000

0.2510

2.5000

0.0000

0.3559

0.3559

0.1049

36 अन्य विद्युत कार्य

12.8863

0.1777

0.5941

6.4020

1.1740

2.3865

2.2088

1.7924

37 कर्षण वितरण कार्य

0.0000

0.0000

0.0000

0.0000

0.0000

0.0000

0.0000

0.0000

41 यंत्र व संयंत्र

7.4481

0.0700

0.9933

2.4063

0.0000

0.1881

1.3085

0.3852

42 कारखाना

8.9996

0.0010

0.9925

12.3986

1.2376

1.3785

0.4892

-0.5023

51 कर्मचारी क्वार्टर

2.2672

0.0439

1.1281

1.0380

0.0000

0.4902

-0.0439

-1.1281

52 कर्मचारी सुविधाएं

0.0000

0.0000

0.0000

0.0000

0.0000

0.0000

0.0000

0.0000

53 पास सुविधाएं

57.9729

1.1362

2.0938

29.3470

12.8336

20.1218

18.9856

18.0280

64 अन्य निर्धारित कार्य

4.5398

0.4613

1.2318

2.6620

0.1674

1.0437

0.5824

-0.1881

65 एचआरडी

0.1261

0.0000

0.0000

0.0000

0.0000

0.0000

0.0000

0.0000

अन्य

433.1178

74.5241

99.4221

273.2920

39.4396

100.8621

26.1499

1.2519

अर्जन:

वरि.मंवाप्र/गुंतकल के परामर्श के अनुसार, मंडल के जून  - 24माह के लिए और माह के अंत तक अर्जन इस प्रकार है.  वित्त वर्ष 2023-24के लिए कुल आय 2026.43 करोड़ रुपये रहा.

अवधि

पास अर्जन

माल अर्जन

अन्य कोचिंग

फुटकर अर्जन

कुल

माह के लिए

87.27

68.31

7.83

8.05

171.46

माह के अंत तक

263.46

184.93

25.26

18.38

492.02

जून  - 2023 की अपेक्षा जून  - 2024 माह के लिए मूल अर्जन 12.39 करोड़ रुपये कम है.

जून  - 2023 के अंत तक जून  - 2024 माह के लिए मूल अर्जन 30.63 करोड़ रुपये कम है.


वसूली योग्य बिल :

अप्रैल, 2024से जून, 2024 की अवधि के दौरान, 01.04.2024को प्रारंभिक शेष राशि 4.37 करोड़ रुपये है, 7.95 करोड़ रुपये के बिल बनाए गए हैं और 3.18 करोड़ रुपये की वसूली हुई है.  जून,2024के अंत तक वसूल किए जाने वाले बिलों का अंतिम शेष 9.13 करोड़ रुपये है. वित्त वर्ष 2023-24 के लिए कुल वसूली योग्य बिल 13.22 करोड़ रुपये था.

30.06.2024 को अंत शेष राशि का विवरण(आंकडे000’में)

वर्ष

2009-10

2014-15

2015-16

2016-17

2017-18

2018-19

2019-20

2020-21

2021-22

2022-23

2023-24

2024-25

कुल

राशि

476

1

2

9

1987

233

12

5

5373

24

15598

67626

91346

लेखा परीक्षा :

               01.04.2024 को लेखा परीक्षा आपत्तियों का प्रारंभिक शेष 49 (2विशेष एलटीआरएस, 21एआईआर और26एएन)है.  अप्रैल,  2024 से जून , 2024 के दौरान 3 (Pt.I AIRs-01, Pt.I ANs-01 एवं Spl.Ltr.-01)  की वृद्धि और क्लियरेंस 00(Pt.I AIRs-00, Pt.I ANs-00 और Spl. Ltrs.,-00) का हुआ है और जून,  2024 को समाप्त अंत शेष 52 रिपोर्ट रहा जिसमें 03 स्पेशल लेटर्स, 22 पार्ट – I एआईआर और 27 पार्ट – I लेखा परीक्षा टिप्पणियां शामिल हैं. वित्त वर्ष 2023-24 के लिए कुल 04 (Pt.I AIRs-00, Pt.I ANs-02औरSpl. Ltrs.-02)लेखा परीक्षा आपत्तियों को क्लियर किया गया.

बचत :

               अप्रैल, 2024 से जून , 2024 तक आंतरिक जांच के दौरान 14.53 करोड रुपए की राशि बचत की गई है. वित्त वर्ष 2023-24 के लिए कुल बचत 29.59 लाख रुपये रहा.

समापन रिपोर्ट:

               सभी कार्यों को पूर्ण करने के बाद समापन रिपोर्ट प्राप्त करने के लिए चलाए गए विशेष अभियान द्वारा, अप्रैल, 2024 से जून,2024 की अवधि के दौरान 20 समापन रिपोर्ट तैयार किये गये जिससे प्राक्कलित व्यय से अधिक खर्च 0.45 करोड रुपए का विनियमन किया गया. वित्त वर्ष 2023-24 के लिए कुल समापन रिपोर्ट 81 रहा.

 पेंशन

ओ.एन.आर मामलों (मृत्यु, स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति एवं लार्सजेस मामलों) के निपटारे में विशेष ध्यान देने के कारण अप्रैल, 2024 से जून, 2024 की अवधि के दौरान 22 ओ.एन.आर मामलों के अलावा 135 सामान्य सेवानिवृत्ति मामले निपटाए गए.

· भविष्य निधि एवं नई पेंशन योजना

वर्ष 2023-24के लिए भविष्य निधि शेष का वार्षिक मिलान पूरा हो गया है और आर.ई.एस.एस (RESS) सुविधा के कार्यान्वयन से कर्मचारियों के भविष्य निधि पासबुक को अद्यतन करना बंद कर दिया गया है.

             

जून-24के अंत तक, 11,347कर्मचारी एनपीएस के दायरे में आ चुके हैं. जून-24महीने के लिए ईसी और जीसी अपलोड कर दिया गया है. सितंबर-08 से जून-24तक एनएसडीएल द्वारा 9,02,53,61,801/-रुपये की राशि अपलोड कर पुष्टि की गई है.

            रेलवे बोर्ड के दिशा-निर्देशों के अनुसार एनपीएस परिवार पेंशन मामलों के भुगतान की प्रक्रिया को क्रमबद्ध करने के लिए, एनपीएस पेंशन बिलों को पारित किया जा रहा है और एनपीएस परिवार पेंशन के भुगतान को विधिवत् रूप से विकेंद्रीकृत करते हुए भुगतान की व्यवस्था यूनिट स्तर पर की जा रही है. इस यूनिट द्वारा जून, 2024 की अवधि के लिए 223 पेंशनभोगियों के हेतु 41,74,611/-रुपये की राशि की व्यवस्था की गई है.

            स्टॉक शीट :

अप्रैल, 24 से जून, 24 की अवधि के दौरान 07स्टॉक शीट बंद कर दिये गये हैं.  ताजा वृद्धि के कारण जून - 24 के अंत तक स्टॉक शीटों का समापन शेष 09है.  वित्त वर्ष 2023-24 के अंत तक बंद किए गए स्टाक शीट 44रहा.

उचंत :

उचंत खाते का मिलान अद्यतन है.  आज की तारीख में, स्कूटर अग्रिम के तहत कोई बीपीपी आइटम नहीं हैं और इस मंडल में मई - 24 के अंत तक कोई इनिफिशियेंट बेलंस नहीं है.

सभी पुरानी वस्तुएं आरआईबी और चेक और बिल के तहत क्लियर कर दिये गये हैं और 23 वस्तुएं आरआईबी के तहत बकाया शेष है, जिनमें 19, 10 दिन से कम पुराने है और 01 दस दिन से अधिक और 30 दिन से कम है और 03 मदें 01 माह से अधिक पुरानी हैं.  मई – 24 के अंत तक चेक और बिल के तहत 16 मदें है इनमें 16 मदें 1 माह से कम पुराने है, और सभी मदें रोकडिया लेनदेन से संबंधित है.

बिल की स्थिति:

अप्रैल 24  से जून  24 के दौरान 595ठेकेदार बिल और 3009आपूर्तिकर्ताओं के बिल पारित किए गए हैं.

         


मुख्य विशेषताएं:

I.अप्रैल  24 से जून  24 के दौरान कुल बचत 14.53 करोड़ रुपये है.

II. अप्रैल 24 से जून  24 के दौरान 3.18 करोड़ रुपए वसूली योग्य बिल के रूप में की वसूल किए गए, अर्थात 67,06,839/-रुपए बिजिली प्रभार के लिए, 19,33,962/- रुपए एलएलएफ के लिए, 9,96,680/- रुपए री-रेलिंग प्रभार के लिए, 1,08,86,808/- रुपए निरीक्षण व अनुरक्षण प्रभार के लिए,30,96,585/-रुपए भवन किराया एवं जल प्रभार के लिए एवं 81,91,231/-रुपएकर्मचारी प्रभार के लिएहै.

III.बुक्स सेक्शन में उचंत खाता बचत का मिलान अद्यतन है. आज की तारीख में, स्कूटर अग्रिम, पीसी अग्रिम के तहत कोई बीपीपी मद नहीं है और मई - 24 के अंत तक कोई इनिफिशियेंट बैलेंस नहीं मिला है.

IV. ओएनआरमामलों (मृत्यु, स्वैच्छिक सेवानिवृत्तिऔर LARSGESS मामलों) के निपटान में विशेष ध्यान देने के परिणामस्वरूप, अप्रैल 24से जून  24की अवधि के दौरान 135 एनआर मामलों के अलावा 22 ओएनआर मामलों को क्लियर किया गया है.

 

V. अगले 3 वर्षों में सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों की सेवापंजियां और छुट्टी लेखा अग्रिम प्रमाणन का कार्य जारी है. अप्रैल  24से जून  24के लिए 136सेवापंजी व छुट्टी लेखा हैं और इनका कार्मिक शाखा से परामर्श कर सत्यापन किया गया.

VI. अप्रैल  24से जून  24के दौरान 82 एम.ए.सी.पी.एस, 142वेतन निर्धारण, 80स्थानांतरण और 56चिकित्सा प्रतिपूर्ति मामलों का निपटारा किया गया.

       

नवाचार एवं कार्य पद्धति उन्नयन :

Øमई, 2019 माह के दौरान इस कार्यालय के सभी अनुभागों के कार्यपालकों द्वारा ई-ऑफिस के जरिए प्राप्त प्रस्ताव, बिल्स व अन्य महत्वपूर्ण पत्राचार के सक्रिय रूप से निगरानी के लिए ई-ऑफिस कार्य प्रणाली का कार्यान्वयन किया गया है और साथ ही जवाबी उत्तर भी केवल ई-ऑफिस के माध्यम से बनाए रखा गया है.