Screen Reader Access Skip to Main Content Font Size   Increase Font size Normal Font Decrease Font size
Indian Railway main logo
खोज :
Find us on Facebook   Find us on Twitter Find us on Youtube View Content in English
National Emblem of India

हमारे बारे में

नागरिक चार्टर

रेलगाड़ियां तथा समय

यात्री सेवाएं / भाड़ा जानकारी

सार्वजनिक सूचना

निविदाएं

हमसे संपर्क करें

स्वच्छ रेल स्वच्छ भारत
ट्विटर पर सिकंदराबाद डिवीजन
फेसबुक पर सिकंदराबाद डिवीजन
समाचार और घोषणाएँ
आरटीआई सूचना
भंडार
हमारे बारे में
सामान्य प्रशासन
एएलएस / एलजीडी
डीएसएल शेड / केजेजे
विद्युत लोको शेड/काजीपेट
फोटो गैलरी
हम से संपर्क करें
लेखा विभाग
विद्युत
इंजीनियरी
EnHM
यांत्रिक
लोको शेड
चिकित्सा
परिचालन
कार्मिक विभाग
राजभाषा
संरक्षा
Security
सुरक्षा
सिगनल व दूरसंचार
परीक्षण
सार्वजनिक सूचना


 
Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS

हमारे बारे में
फोटो गैलरी
सामान्य प्रशासन हम से संपर्क करें लेखा विभागवाणिज्यविद्युतइंजीनियरी
लोको शेड यांत्रिकचिकित्सापरिचालनकार्मिक विभागराजभाषासंरक्षासुरक्षासिगनल व दूरसंचार

भूमिका :

यात्री जनता को यात्रा टिकटें बेचकर राजस्व उत्पन्न करना वाणिज्य शाखा का प्रमुख कार्य है. वाणिज्य शाखा रेल द्वारा परिवहन के लिए ग्राहकों का सामान भी बुक करता है. ग्राहक जो बहुत बड़ी मात्रा में सामान रेल द्वारा भेजना चाहते हैं, उनके लिए वाणिज्य शाखा मालडिब्बों तथा गाड़ियों को बुक करता है. दावों का निपटान तथा टिकट आदि के रद्दकरण पर धनवापसी करना भी वाणिज्य शाखा का काम है. रेलों के असंतोषजनक सेवाओं के विरुद्ध प्राप्त होने वाले जन शिकायत तथा ग्राहकों के फीडबैक को पंजीकृत किया जाता है तथा वाणिज्य शाखा उनका निवारण करता है. इसके अलावा वाणिज्य शाखा यात्रियों को बेहतर सुविधाएं प्रदान करने के लिए रेलों के अन्य विभागों के साथ समन्वय स्थापित करने के लिए सदैव तत्पर रहता है.

संगठनात्मक ढांचा


सिकंदराबाद मंडल के स्टेशनों का कोटिवार विवरण

कोटि

स्टेशनोंकीसंख्या

ए1

2

4

बी

10

सी

12

डी

22

74

एफ

18

संगठनात्मक ढांचा-सिकंदराबाद मंडल के स्टेशनों का कोटिवार विवरण

कोटि- स्टेशनोंकीसंख्या

अनारक्षित टिकट प्रणाली (यूटीएस):सिकंदराबाद मंडल पर उपलब्ध यात्री सुख-सुविधाएं

यात्रियों को बेहतर सुविधाएं प्रदान करने तथा टिकट तुरंत जारी करने के लिए कुल 117 स्टेशनों पर अनारक्षित टिकट प्रणाली की व्यवस्था की गयी है. यह एक नवीनतम प्रणाली है, जिसके द्वारा किसी भी स्टेशन से किसी भी स्टेशन के लिए टिकट जारी कर सकते हैं.इस प्रणाली के द्वारा 200 किमी से अधिक की दूरी के गंतव्य स्थानों के लिए यात्री 3 दिन पहले साधारण टिकट खरीद सकते हैं.

यात्री आरक्षण प्रणाली (पीआरएस) :

सिकंदराबाद मंडल में 83स्थानों में यात्री आरक्षण प्रणाली की व्यस्था की गयी है. इनमें 14 (चौदह) भारतीय डाक यात्री प्रणाली हनमकोंडा, जगित्याल, सिरिसिल्ला, विधानसभा, एलेंदु/खम्मम, गोदावरीखनी, सतुपल्ली/खम्मम, जगय्यापेट, भुवनगिरि, सिद्दिपेट, आलेर, हयातनगर, बीदर तथा उप्पल में हैं. 117 यूटीएस स्थानों में से 47स्थानों पर आरक्षण सुविधा को यूटीएस के साथ मिला दिया गया है.

जनसाधारण टिकट बुकिंग सेवक (जेटीबीएस) :

साधारण टिकट जारी करने की सुविधा को रेल यात्रियों के दरवाजे तक पहुंचाने के लिए सिकंदराबाद, खम्मम, विकारबाद तथा परली वैजनाथ 4 (चार) स्टेशनों पर जेबीटीएस कार्यरत है.

एटीवीएम आरंभ करना :

रेल यात्रियों तथा दैनिक यात्रियों की सुविधा के लिए उपभोक्ता अनुकूल स्मार्ट कार्ड आधारित स्वचालित टिकट वेंडिंग मशीनों को सिकंदराबाद, हैदराबाद तथा 14 एमएमटीएस स्टेशनों पर आरंभ किया गया है. सभी महत्वपूर्ण स्टेशनों पर यह सुविधा उपलब्ध कराने का प्रस्ताव है.

राष्ट्रीय गाड़ी पूछताछ प्रणाली (एनटीईएस) :

मंडल के 5 स्थानों पर यथा सिकंदराबाद मंडल नियंत्रण कार्यालय, सिकंदराबाद स्टेशन पूछताछ कार्यालय, हैदराबाद स्टेशन पूछताछ कार्यालय, काजीपेट तथा वरंगल स्टेशन पूछताछ कार्यालय, में एनटीईएस की सुविधा उपलब्ध करायी गयी है.

इंटर एक्टिव वाइस रेस्पान्स प्रणाली (आईवीआरएस) :

आईवीआरएस द्वारा सूचना सुविधा की सेवा को बाहरी श्रोत को सौंपा गया है तथा पूरे देश के लिए 139 (रेल संपर्क) द्वारा यह सेवा उपलब्ध है.

केन्द्रीयकृत यात्री पूछताछ प्रणाली (सीपीईएस) :

सिकंदराबाद मंडल पर केन्द्रीयकृत यात्री पूछताछ प्रणाली काम कर रहा है, जिसके द्वारा सिकंदराबाद मंडल पर गाड़ियों का आगमन व प्रस्थान से संबंधित सूचनाएं ली जा सकती हैं. इस सेवा का हेल्पलाइन नं. 040-2782999 है.

यात्री परिचालित पूछताछ टर्मिनल (पीओईटी) तथा टॅच स्क्रीन पूछताछ प्रणाली :

यात्रियों को आवश्यक सूचना देने के लिए मंडल पर 50स्थानों पर 73 पीओईटी की व्यवस्था की गयी है. पीओईटी के अलावा सिकंदराबाद मंडल में सिकंदराबाद, हैदराबाद तथा बेगमपेट स्टेशनों पर टॅच स्क्रीन पूछताछ प्रणाली की सुविधा उपलब्ध है.

वाईस रिकार्डेड शिकायत प्रणाली (वीआरसीएस) :

यात्रियों की सुविधा के लिए ए-1कोटि के स्टेशनों अर्थात् सिकंदराबाद और हैदराबाद में वाइस रिकार्डेड शिकायत प्रणाली की सुविधा है, जहाँ यात्री स्टेशन में उपलब्ध टेलीफोन पर हिंदी/अंग्रेजी के अलावा क्षेत्रीय भाषा में भी अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं.

किराया रीपिटर बोर्डों का संस्थापन :

यात्रियों की सुविधा के लिए मंडल पर 81स्टेशनों/स्थानों को कवर करते हुए यूटीएस/पीआरएस बुकिंग काउंटरों पर कुल 252किराया रिपीटर बोर्डों को लगाया गया है.

सुदूर बेतार जन संबोधन प्रणाली :

यात्रियों की सुविधा के लिए गांधीपुरम, नागुलवंचा, ओडेला, कारेपुर, अंबिका रोहिनी तथा वड्वल नागनाथ इन पांच हॉल्ट स्टेशनों में सुदूर बेतार जन संबोधन प्रणाली की व्यवस्था की गयी है.

निगरानी कैमरा लगाना :

असामाजिक गतिविधियों पर कड़ी नजर रखने तथा भीड़ को अच्छी तरह नियंत्रित करने के लिए सिकंदराबाद, हैदराबाद, काजीपेट, वरंगल, खम्मम, विकाराबाद तथा बीदर स्टेशनों में निगरानी कैमरों की व्यवस्था की गयी है. इसके अलावा हाल ही में सिकंदराबाद स्टेशन के आस-पास पूरे क्षेत्र को कवर करने के लिए अतिरिक्त निगरानी कैमरों की व्यवस्था की गयी है.

विश्रामालय :

सिकंदराबाद मंडल पर सिकंदराबाद, हैदराबाद, काजीपेट, वरंगल, खम्मम, भद्राचलम रोड, रामगुंडम, बेल्लमपल्ली तथा परली बैजनाथ स्टेशनों पर विश्रामालय की व्यवस्था है.

कुछ ही दिनों में सिकंदराबाद स्टेशन पर विश्रामालयों में ऑन लाइन बुक करने की सुविधा आरंभ कर दी जाएगी.

पीने का ठंडा पानी :

ग्राहकों की संतुष्टि के लिए बेहतर सेवाएं प्रदान करने हेतु 43 स्टेशनों में पेय जल के 96कूलरों की व्यवस्था की गयी है. इनमें 20 कूलर उच्च क्षमतावाले मॉड्यूलर ठंडे पानी के संयंत्र हैं.

वातानूकुलित प्रतीक्षा :

यात्री जनता की सुविधा के लिए सिकंदराबाद, हैदराबाद, काजीपेट, वरंगल तथा बेगमपेट स्टेशनों पर वातानुकूलित प्रतीक्षालय उपलब्ध हैं.

एमएमटीएस स्टेशनों पर जीपीएस आधारित उद्घोषणा प्रणाली :

एमएमटीएस स्टेशनों पर यात्रियों को गाड़ियों की वर्तमान स्थिति की सूचना देने के लिए जीपीएस आधारित उद्घोषणाएं की जा रही हैं. इसके अलावा जीपीएसयुक्त नए एमएमटीएस रेकों को चलाया जा रहा है, जिनमें यात्रियों की सुविधा के लिए स्टेशनों का आगमन आदि के बारे में सवारीडिब्बों के अंदर उदघोषणाएं की जाती हैं.

सवारीडिब्बा संकेत व गाड़ी सूचना बोर्ड :

यात्री जनता को गुणात्मक सूचना देने के लिए मंडल में सिकंदराबाद, हैदराबाद, बेगमपेट, काजीपेट, वरंगल, खम्मम, रामगुंडम, मंचिर्याल, भद्राचलम रोड, डोर्नकल, बीदर, विकाराबाद, परली तथा तांडूर स्टेशनों परइलैक्ट्रानिक डिस्पले युक्त सवारीडिब्बा संकेत व गाड़ी सूचना बोर्डों की व्यवस्था की गयी है. इसके अलावा, यात्रियों की सुविधा के लिए सवारीडिब्बों के बाहर वीएचएफ आधारित लेड गंतव्य स्थान बोर्ड तथा सवारीडिब्बों के भीतर जीपीएस आधारित गाड़ी स्थान संकेत बोर्डों को लगाया गया है. सिकंदराबाद स्टेशन में प्लैटफॉर्म नं.10 पर भोईगुडा की ओर विचरण क्षेत्र में 10 लाइनवाले ट्रू कलर लेड सूचना बोर्ड की व्यवस्था की गयी है.

जन शिकायत :

ग्राहकों द्वारा शिकायत तथा फीडबैक दर्ज करने के लिए सभी स्टेशनों पर शिकायत/सुझाव पुस्तकें उपलब्ध हैं. स्टेशनों पर उपलब्ध शिकायत/सुझाव पुस्तकों के अलावा यात्री अपनी शिकायतें 8121281212 नंबर पर एसएमएस भेज कर दर्ज करा सकते हैं. इसके अलावा खान-पान सेवाओं से संबंधित शिकायत/सुझाव को हेल्प लाइन नं. 9701370964 पर दर्ज कर सकते हैं.

बैटरी द्वारा परिचालित कार/पहिया कुर्सी :

शारीरिक रूप से विकलांग तथा वरिष्ठ नागरिकों की सुविधा के लिए सिकंदराबाद मंडल पर सिकंदराबाद तथा हैदराबाद रेलवे स्टेशनों में बैटरी द्वारा परिचालित निःशुल्क कार सेवा की व्यवस्था है. सिकंदराबाद मंडल पर सभी स्टेशनों में पहिया कुर्सियों की व्यवस्था की गयी है. इनमें से ए-1कोटि के स्टेशनों पर 19, ए कोटि के स्टेशनों पर 17, बी कोटि के स्टेशनों पर 14, डी कोटि के स्टेशनों पर 30 तथा ई कोटि के स्टेशनों पर 79 उपलब्ध हैं.

सिकंदराबाद मंडल का कार्यनिष्पादन :

2009-10 के दौरान प्राप्त 3385.27करोड़ रूपये की तुलना में वर्ष 2010-11 के लिए मंडल का आरंभिक अर्जन 1256.45 रूपये रहा.

पिछले वर्ष की तदनुरूपी अवधि के 1182.98करोड़ रूपये की तुलना में अप्रैल-जुलाई, 2011 तक की अवधि के दौरान मंडल का आरंभिक अर्जन 1256.45करोड़ रूपये रहा.

आरंभिक यात्री :

2009-10 के दौरान वहन किए 101.60मिलियन यात्रियों की तुलना में वर्ष 2010-11 के दौरान 113.82मिलियन आरंभिक यात्रियों का वहन किया गया.

पिछले वर्ष की तदनुरूपी अवधि के 37.13मिलियन यात्रियों की तुलना में अप्रैल-जुलाई, 2011 तक की अवधि के दौरान मंडल द्वारा 40.11 मिलियन आरंभिक यात्रियों का वहन किया गया.

आरंभिक यात्री अर्जन :

2009-10 के दौरान प्राप्त 642.12 करोड़ रूपये की तुलना में वर्ष 2010-11 के दौरान 731.30करोड़ रूपये का यात्री अर्जन प्राप्त हुआ.

पिछले वर्ष की तदनुरूपी अवधि में प्राप्त 231.22करोड़ रूपये की तुलना में अप्रैल-जुलाई, 2011 तक की अवधि के दौरान यात्री अर्जन 252.43 करोड़ रूपये रहा.

पार्सल यातायात कार्यनिष्पादन :

हैदराबाद तथा सिकंदराबाद स्टेशन प्रमुख पार्सल हैंडलिंग स्टेशन हैं, जो मंडल के पूरे पार्सल यातायात में 90% का योगदान देते हैं. मंडल का लदान तथा अर्जन विवरण निम्नलिखित है .

मद---अप्रैल से मार्च तक---अप्रैल से जुलाई तक---घट-बढ़ के अंतर का %-- घट-बढ़ के अंतर कालदान  (टनों में)

अर्जन (करोड़ रू. में)

सिकंदराबाद/हैदराबाद से आरंभ होने वाली गाड़ियों में एसएलआर स्थल पट्टे पर देने के लिए मंडल ने लगातार प्रयास किया तथा 54एसएलआर तथा 26 गाड़ियों में सहायक गार्ड केबिनों को पट्टे पर देना आरंभ कर दिया है. इसके अलावा पार्सल यातायात के संचलन के लिए मंडल ने 12वीपीओ में स्थल को पट्टे पर दिया.

टिकट जांच कार्यनिष्पादन :

मंडल के सतत तथा संगठित प्रयासों के कारण पिछले वर्ष की तुलना में टिकट जांच कार्यनिष्पादन में सुधार हुआ. 2009-2010 के 1603.18 लाख रूपये की तुलना में 2010-11 में अर्जन 1807.59 लाख रूपये हुआ.

पिछले वर्ष की तदनुरूपी अवधि के 559.08करोड़ रूपये की तुलना में अप्रैल-जुलाई, 2011 तक की अवधि के दौरान सिकंदराबाद मंडल का टिकट जांच अर्जन 724.04करोड़ रूपये रहा.

आरंभिक माल अर्जन : 2009-10 के दौरान प्राप्त 2609.39 करोड़ रूपये की तुलना में वर्ष 2010-11 के दौरान माल अर्जन 2781.18करोड़ रूपये रहा.

पिछले वर्ष की तदनुरूपी अवधि के 914.92करोड़ रूपये की तुलना में अप्रैल-जुलाई, 2011 तक की अवधि के दौरान सिकंदराबाद मंडल का माल अर्जन 962.73करोड़ रूपये रहा.

बातें/घटनाएं-यात्री प्रचालन---पिछले वर्ष की तदनुरूपी माह की 10.08मिलियन की तुलना में अगस्त-12 माह में यात्री यातायात 10.65मिलयन रहा, जो 5.6%की वृद्धि दर्शाता है.

पिछले वर्ष की तदनुरूपी माह की 66.16करोड़ रूपये की तुलना में अगस्त-12 माह में यात्री अर्जन 73.51मिलियन रहा, जो 11.1%की वृद्धि दर्शाता है.

पिछले वर्ष की तदनुरूपी माह की 20.08करोड़ रूपये की तुलना में अगस्त-12 माह में यूटीएस यात्री अर्जन 20.92 करोड़ रहा, जो 4.2%की वृद्धि दर्शाता है.

पिछले वर्ष की तदनुरूपी माह की 1.17मिलियन की तुलना में अगस्त-12 के दौरान पीआरएस यात्री यातायात 1.25 मिलियन रहा जो 7.3%की वृद्धि दर्शाता है.

पिछले वर्ष की तदनुरूपी माह की 46.08मिलियन की तुलना में अगस्त-12 के दौरान पीआरएस यात्री अर्जन 52.59 मिलियन रहा जो 14.1%की वृद्धि दर्शाता है.

माल प्रचालन---अगस्त-12 के दौरानसिकंदराबाद मंडल पर विभिन्न स्थानों में पिछले वर्ष के 652रेकों की तुलना में कुल 780 रेकों का उतरान किया गया.

माल प्रचालन-----अगस्त-12 के दौरान 5.30 मिलियन टन की तुलना में अगस्त-12 माह के दौरान माल लदान 5.11 मिलियन टन रहा जो पिछले वर्ष की तदनुरूपी माह की तुलना में 3.58%वृद्धि दर्शाता है.

पिछले वर्ष की तदनुरूपी माह की 1482रेकों की तुलना में अगस्त-12 माह के दौरान, सिकंदराबाद मंडल के भिन्न स्थानों से कुल 1424 रेकों के विभिन्न पण्यों का लदान किया गया.

ग्राहकों के साथ बैठक----मंरेप्र के सभागृह में दिनांक 08.08.2012 को सीमेंट ग्राहकों, ग्रेनाइट लोडिंग एजेसिंयों, आरआईएनएल प्राधिकारियों के साथ बैठक हुई.

पार्सल प्रचालन-पार्सल स्थान पट्टे पर देना: ---अगस्त-2012 माह के दौरान, 3 विभिन्न गाड़ियों में 1एसएलआर संविदा, 2 वीपीएच के लिए ठेका प्रदान किया गया.

कोचिंग---अगस्त-2012 माह के दौरान, दिनांक 25.08.2012 को परली वैजनाथ स्टेशन में तथा दिनांक 27.08.2012 को सिकंदराबाद पीआरएस में आरक्षण के लिए टोकन प्रणाली आरंभ की गयी.

ठेका-पे एंड यूज:---सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन में (भोईगुडा की ओर) डिलक्स पे एंड यूज प्रसाधन (निर्माणाधीन) के रखरखाव का ठेका 9, 01, 211/- की वार्षिक लाईसेंस की दर से श्री बी. येल्लास्वामी को पांच वर्ष की अवधि के लिए ठेका दिया गया.

केसमुद्रम रेलवे स्टेशन में पे एंड यूज प्रसाधन के रखरखाव का ठेका 2500/- की वार्षिक लाईसेंस की दर से श्री ई.वेंकटेश को पांच वर्ष की अवधि के लिए ठेका दिया गया.

वातानुकूलित प्रतीक्षालयकी आऊटसोर्सिंग:-काजीपेट तथा वरंगल स्टेशनों में वातानुकूलित प्रतीक्षालयों के सफाई व मैनिंग अनुरक्षण का ठेका कोटेशन के आधार पर 3600/- रु लाइसेन्स शुल्क पर तीन महीने की अवधि के लिए मेसर्स टीईटीई एंटरप्राइजेसको दि.22.08.12 को प्रदान किया गया और वह आरंभ की प्रतीक्षा कर रहा है जो सभी वैध टिकट धारण करनेवाले यात्रियों के लिए प्रति यात्री पहले दो घंटे के लिए 20/- रु. तथा बाद में प्रति घंटे के लिए 10/- रु शुल्क पर प्रदान किया गयाथा.

सफाई ठेका---श्री बी. मोहन के पक्ष में दो वर्ष की अवधि के लिए अर्थात् 27.8.2012 से 26.08.2014 तक प्रति माह 42,440/- रु. लाइसेन्स शुल्क पर जम्मिकुंटा में मशीनीकृत सफाई के जरिए सफाई अनुरक्षण का ठेका प्रदान किया गया.

टिकट चेकिंग: -पिछले वर्ष के तदनुरूपी माह के 1.53करोड रु. की तुलना में अगस्त 2012 माह के दौरान टिकट जांच अर्जन 2.15करोड रु. होने की संभावना है जिसमें 41% की वृद्धि होगी.

पिछले वर्ष के तदनुरूपी माह के दौरान 8.77करोड रु. की तुलना में चालू वित्त वर्ष के दौरान अगस्त'12 तक टिकट जांच अर्जन 10.80 करोड रु. होगा जिसमें 23.14% की वृद्धि होगी.

चालू वित्त वर्ष के अगस्त माह तक टिकट जांच अर्जन 11.12करोड रु. के लक्ष्य की तुलना में 10.80 करोड रु. होगा जो लक्ष्य से 2.87% कम है.

यात्री शिकायतें---अगस्त 2012 माह के दौरान एसएमएस के जरिए 270शिकायतें प्राप्त हुई, जिसमें से 73शिकायतें वाणिज्य विभाग से संबंधित हैं. शिकायत/सुझाव पुस्तिकाओं में दर्ज 43शिकायतों में से 17 शिकायतें वाणिज्य विभाग से संबंधित हैं. इज्जत सीऱन पास जारी न करने के लिए अनुशासनिक नियमों के अंतर्गत एक कर्मचारी पर कार्रवाई की गयी.

खान-पान---अगस्त-2012 माह के दौरान, विभिन्न खान-पान यूनिटों से लाइसेन्स शुल्क के रूप में 0.40 लाख रु. प्राप्त हुए.

****

_______________________________________________________________________________




Source : दक्षिण मध्‍य रेलवे CMS Team Last Reviewed on: 28-02-2018  


  प्रशासनिक लॉगिन | साईट मैप | हमसे संपर्क करें | आरटीआई | अस्वीकरण | नियम एवं शर्तें | गोपनीयता नीति Valid CSS! Valid XHTML 1.0 Strict

© 2010  सभी अधिकार सुरक्षित

यह भारतीय रेल के पोर्टल, एक के लिए एक एकल खिड़की सूचना और सेवाओं के लिए उपयोग की जा रही विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं द्वारा प्रदान के उद्देश्य से विकसित की है. इस पोर्टल में सामग्री विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं और विभागों क्रिस, रेल मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा बनाए रखा का एक सहयोगात्मक प्रयास का परिणाम है.