Screen Reader Access Skip to Main Content Font Size   Increase Font size Normal Font Decrease Font size
Indian Railway main logo
खोजें:
Find us on Facebook   Find us on Twitter Find us on Youtube View Content in English
National Emblem of India

हमारे बारे में

नागरिक चार्टर

रेलगाड़ियां तथा समय

यात्री सेवाएं / भाड़ा जानकारी

सार्वजनिक सूचना

निविदाएं

हमसे संपर्क करें

लोकोमोटिव होल्डिंग
लोको लिंक
संगठन चार्ट
निष्पादन
श्रमशक्ति
अच्छा काम
Staff details
संपर्क
सवारी डिब्बा कारखाना, लालागुडा
मॉल डिब्बा कारखाना गुंटूपल्ली
डीजल लोको शेड मौलाली
सवारी डिब्बा मरम्मत कारखाना / तिरुपति
इलेक्ट्रिक लोको शेड विजयवाड़ा
डीजल लोको शेड गुंतकल
डीजल लोको शेड गूटी
डीजल लोको शेड काजीपेट
इलेक्ट्रिक लोको शेड काजीपेट
इलेक्ट्रिक लोको शेड लालागुडा
एमु कार शेड मौला-अली
MEMU Car Shed RJY
सिगनल व दूरसंचार कारखाना
इंजीनियरिंग कार्यशाला लालागुडा
बॉक्स एन आरओएच डिपो गूटी


 
Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS
डीजल लोको शेड विजयवाड़ा

1.डीज़ल लोको शेड, विजयवाड़ा की गतिविधियाँ:

विजयवाड़ागुंटूरसिकंदराबाद मंडलों में डीज़ल इंजनों तथा डीजल इलेक्ट्रिकल मल्टिपुल यूनिट (डेमु), स्वचालित दुर्घटना राहत गाड़ी, स्वचालित दुर्घटना राहत चिकित्सा वाहन, रोड मोबाइल दुर्घटना राहत वाहन तथा 140 टन ब्रेक डाउन क्रेन का एकीकृतअनुरक्षण.

मंडलयांत्रिकइंजीनियर
सहायकमंडलयांत्रिकइंजीनियर (डीज़ल)
सहायकसामग्रीप्रबंधक (डीज़ल)

 2.प्रशासन

यह शेड, मंडल यांत्रिक इंजीनियर के नेतृत्वमें 02 सहायक मंडल यांत्रिक इंजीनियर तथा 01 सहायक सामग्री  प्रबंधक की सहयोग से चल रहा है.  यह शेड 276 श्रमशक्ति से चल रहा है. जिसमे (इंजन अनुरक्षण केलिए तकनीकी पर्यवेक्षक, कारीगर कर्मचारी अधीनस्थ कर्मचारी, लिपिक वर्गीय कर्मचारी, ब्रेक डाउन क्रेन, एसपीएआरटी, एसपीएआरएमवी तथा आरएमएआरवी के अनुरक्षण के लिए 12 कर्मचारी और अन्य विविध प्रकार के कर्मचारी शामिल है) डीज़ल लोको शेड विजयवाड़ा के साथ संबद्ध भंडार विभागसहायक सामग्री प्रबंधक कीअध्यक्षता में कार्यरत है. जिसमें 635 स्टॉक मद भी शामिल है.


3.संक्षिप्त इतिहास

डीजल लोको शेडविजयवाड़ा को वर्ष 1979 में170 लाख की लागत से20-डब्ल्यूडीपीइंजनों के अनुरक्षण के किया गयाथा

और यह वर्ष 1989 में इंजनों की संख्या 35 के रूपमें वृद्धि हुई. इनइंजनोंकोडब्ल्यूडीएम2डी-रेटेडइंजनोंकेरूपमेंनिवर्तितकरशंटिंगप्रयोजनकेलिएउपयोगकियाजारहाहै. इसदौरानवर्ष-2000 में 02 इंजनऔरवर्ष 2004 में 15 इंजनोंकोपश्चिमरेलवेकोआंतरितकियागयाडीजललोकोशेडविजयवाड़ाकोवर्ष 1979 में, 170 लाखकीलागतसे, 20 डब्ल्यूडीपी4इंजनोंकेअनुरक्षणकेलिएस्थापितकियागयाथाऔरयहवर्ष 1989 मेंइंजनोंकीसंख्या 35 केरूपमेंवृद्धिहुई. इनइंजनोंकोडब्ल्यूडीएम2डी-रेटेडइंजनोंकेरूपमेंनिवर्तितकरशंटिंगप्रयोजनकेलिएउपयोगकियाजारहाहै. इसदौरानवर्ष-2000 में 02 इंजनऔरवर्ष 2004 में 15 इंजनोंकोपश्चिमरेलवेकोआंतरितकियागया

4. प्रमाणीकरण

वर्ष 2017 में डीज़ल लोको शेड/विजयवाड़ा आईएमएस (एकीकृत प्रबंधन प्रणाली) से प्रमाणित हुए है जिसमें आईआर क्लास द्वारा 
आईएसओ 9001, 14001 और 18001 शामिल हुए है. आईएमएस एकीकृत लेखापरीक्षा और प्राक्कलन करने के साथ-साथ प्रक्रियाओं और
 संसाधनों को अनुकूलित करने की अनुमति देती है.

र्ष 2019 में डीज़ल लोको शेड/विजयवाड़ा को ईएनएमएस50001 से प्रमाणित किया गया है.

ईएनएमएस50001 ऊर्जा खपत करने वाली परिसंपत्तियों का बेहतर उपयोग करके ऊर्जा निष्पादन में सुधार लाने की मदद करती है.

 इस वर्ष 2022 के दौरान डीज़ल लोको शेड/विजयवाड़ा को ग्रीन-को-सिल्वर रेटिंग से सम्मानित किया गया है. ग्रीन-को, डीज़ल लोको शेड/विजयवाड़ा में रखरखाव प्रथाओं के साथ-साथ सतत विकास के लिए की गई गतिविधियों में कार्बन फुट प्रिंट को कम करने पर जोर दिया गया है.

प्रति छः महीनों में एक बार पानी की बचत का लेखापरीक्षा करते है

प्रति छः महीनों में एक बार ऊर्जा की लेखापरीक्षा करते है.
शेड परिसरों में हर 3 महीनों में एक बार आग से संबंधित सुरक्षा अभियान चलाया जाता है.
डीज़ल लोको शेड/विजयवाड़ा,सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता देता है, इसलिए पिछले 4 वर्षों से आईओडी (ड्यूटी पर घायल) मामले शून्य हैं.

सक्षम प्राधिकारी के अनुमोदन से पर्यावरण प्रदूषण को कम करने की दिशा में कदम बढ़ाते हुए डीज़ल लोको शेड/विजयवाड़ा ने डीपीसी संख्या 15067,15069,15070 और 15072 में प्रदान किए गए दोहरे ईंधन मोड इंजन बनाए हैं.

 
डीज़ल लोको शेड/विजयवाड़ा में टर्न टेबल शामिल है, जहां कोच और डीपीसी को रेक बनाने की सुविधा के अनुसार घुमाया जा सकता है.





Source : दक्षिण मध्‍य रेलवे CMS Team Last Reviewed : 22-11-2022  


  प्रशासनिक लॉगिन | साईट मैप | हमसे संपर्क करें | आरटीआई | अस्वीकरण | नियम एवं शर्तें | गोपनीयता नीति Valid CSS! Valid XHTML 1.0 Strict

© 2010  सभी अधिकार सुरक्षित

यह भारतीय रेल के पोर्टल, एक के लिए एक एकल खिड़की सूचना और सेवाओं के लिए उपयोग की जा रही विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं द्वारा प्रदान के उद्देश्य से विकसित की है. इस पोर्टल में सामग्री विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं और विभागों क्रिस, रेल मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा बनाए रखा का एक सहयोगात्मक प्रयास का परिणाम है.